छत्तीसगढ़ चुनाव: AAP का बड़ा दांव, ‘गारंटी कार्ड’ में होंगे ये 9 अहम वादे

ChhattisgarhTak

ADVERTISEMENT

ChhattisgarhTak
social share
google news

AAP Guarantee Card for Chhattisgarh- आगामी छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव (Chhatisgarh Assembly Polls 2023) के लिए आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) पूरी मुस्तैदी के साथ चुनावी राज्य में फोकस कर रही है. आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पिछले पांच महीनों में तीसरी बार प्रदेश के दोरे पर हैं. लेकिन शनिवार के उनके इस दौरे को बेहद खास माना जा रहा है क्योंकि इस दौरान सीएम केजरीवाल छत्तीसगढ़ की जनता के सामने अपना गारंटी कार्ड (AAP Guarantee Card) पेश करने जा रहे हैं.

केजरीवाल के साथ पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) भी होंगे और जैनम मानस भवन में आप कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे. पार्टी की राज्य इकाई के प्रमुख कोमल हुपेंडी ने बताया कि राज्य में चुनावों के मद्देनजर पार्टी आज गारंटी कार्ड भी जारी करेगी. हुपेंडी ने कहा कि केजरीवाल छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए “गारंटी कार्ड” भी जारी करेंगे, जिसमें यह बताया जाएगा कि राज्य में सत्ता में आने पर उनकी पार्टी क्या लागू करेगी.

केजरीवाल के गारंटी कार्ड में आदिवासी राज्य के मतदाताओं के लिए 8-9 वादे शामिल हो सकते हैं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

सूत्रों ने इंडिया टुडे को बताया कि कौन-कौन से वादे इसमें शामिल होंगे.

गारंटी कार्ड में ये होंगे AAP के वादे

  1. 3000/- रूपये बेरोजगारी भत्ता
  2. 10 लाख सरकारी नौकरियों का सृजन, संविदा कर्मचारियों को नियमित किया जायेगा
  3. 18 वर्ष से अधिक आयु की सभी महिलाओं को 1000/- रूपये की आर्थिक सहायता
  4. सभी के लिए 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली
  5. मुफ्त पानी की आपूर्ति (आप का मानना है कि पानी की आपूर्ति और पानी का बिल छत्तीसगढ़ में शहरी मतदाताओं के लिए चिंता का विषय है)
  6. दिल्ली की तर्ज पर निःशुल्क एवं गुणवत्तापूर्ण शिक्षा। निजी स्कूलों की स्कूल फीस की जांच की जाएगी
  7. दिल्ली की तर्ज पर निःशुल्क एवं गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा
  8. ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवाने वाले पुलिसकर्मी/सशस्त्र बल के शहीदों को 1 करोड़ रुपये का मुआवजा –
  9. दिल्ली की तर्ज पर बुजुर्गों के लिए तीर्थ यात्रा योजना

आर-पार के मूड में आप?

छत्तीसगढ़ में इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होने हैं.वहीं पिछले चुनावों के अपेक्षा इस बारआप ज्यादा सक्रिय नजर आ रही है. लिहाजा सीएम केजरीवाल का भी फोकस इस चुनावी राज्य में है. केजरीवाल ने पिछले महीने बिलासपुर में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित किया था. मार्च में, उन्होंने रायपुर में आप कार्यकर्ता सम्मेलन में भाग लिया.

ADVERTISEMENT

हुपेंडी ने कहा कि आप के शीर्ष नेतृत्व के दौरे और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ उनकी बातचीत से विधानसभा चुनाव के लिए उनकी तैयारी मजबूत होगी. वहीं कई पार्टी नेताओं का कहना है कि आप इस बार मजबूती के साथ चुनावी मैदान में उतरेगी और भाजपा-कांग्रेस को बेनकाब करेगी.

ADVERTISEMENT

बता दें कि  आप ने 2018 में छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में पहली बार अपनी किस्मत आजमाई और 90 में से 85 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे लेकिन सफलता हासिल नहीं कर पाई.

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए AAP ने कसी कमर, आज केजरीवाल और मान का दौरा, ‘गारंटी कार्ड’ करेंगे जारी

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT