बीजेपी के बृजमोहन अग्रवाल के सामने किसी और को ‘गुंडा’ कहना शब्द का अपमान: भूपेश बघेल

ChhattisgarhTak

ADVERTISEMENT

ChhattisgarhTak
social share
google news

Bhupesh Baghel Vs Brijmohan Agrawal- छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने कहा है कि वरिष्ठ भाजपा नेता बृजमोहन अग्रवाल (Brijmohan Agrawal) के सामने किसी और को गुंडा कहना इस शब्द का ही अपमान है.

शुक्रवार को यहां पत्रकारों से बात करते हुए, बघेल अग्रवाल पर हमले की एक कथित घटना पर प्रतिक्रिया दे रहे थे. रायपुर शहर दक्षिण विधानसभा सीट से सात बार विधायक रहे अग्रवाल ने गुरुवार को आरोप लगाया कि जब वह राजधानी रायपुर में अपने निर्वाचन क्षेत्र में प्रचार कर रहे थे तो उन पर हमला किया गया.

कथित घटना के बाद, कई भाजपा नेता और कार्यकर्ता कार्रवाई की मांग को लेकर शहर के कोतवाली पुलिस स्टेशन में धरने पर बैठ गए. घटना के बारे में पूछे जाने पर, बघेल ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, “पहली बात यह है कि कोई भी बृजमोहन अग्रवाल पर हमला नहीं कर सकता है. कथित घटना का जो वीडियो सामने आया है, उसमें वह (अग्रवाल) खुद धक्का देते नजर आ रहे हैं.’

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

 

‘गुंडा शब्द का अपमान’

सीएम ने कहा कि यह प्रकरण बताता है कि सेठ जी (अग्रवाल) चुनाव में पिछड़ रहे हैं. बघेल ने आगे कहा, ”बृजमोहन के सामने किसी और को गुंडा कहना गुंडा शब्द का अपमान है.”

ADVERTISEMENT

 

ADVERTISEMENT

रमन को लेकर कह दी बड़ी बात

मुख्यमंत्री ने रायपुर शहर दक्षिण के साथ-साथ राजनांदगांव में कांग्रेस उम्मीदवारों की जीत पर विश्वास जताया, जहां पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह भाजपा के उम्मीदवार थे.  उन्होंने एक्स पर लिखा, “आइए देखते हैं कि कौन बड़े अंतर से हारता है.”

कांग्रेस ने रायपुर शहर दक्षिण से निवर्तमान अग्रवाल के खिलाफ रायपुर के प्रसिद्ध दूधाधारी मठ के मुख्य पुजारी महंत राम सुंदर दास को मैदान में उतारा है.

 

अग्रवाल ने लगाया हमले का आरोप

गुरुवार को अग्रवाल ने दावा किया था कि जब वह अपने निर्वाचन क्षेत्र बैजनाथ पारा में प्रचार कर रहे थे तो कुछ लोगों ने उनका कॉलर पकड़कर उन पर हमला करने की कोशिश की.

उन्होंने इस घटना को सुनियोजित और लक्षित घटना करार देते हुए दावा किया था कि जिन लोगों ने कथित तौर पर उन पर हमला किया, वे (कांग्रेस नेता और रायपुर के मेयर) एजाज ढेबर और उनके भाई अनवर ढेबर के सहयोगी थे.

 

मामले में चिंटू गिरफ्तार

पुलिस ने कहा कि मोहम्मद साजिद खान उर्फ चिंटू नाम के एक व्यक्ति को घटना के सिलसिले में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया. मामला जमानती अपराध के तहत दर्ज किया गया था, इसलिए आरोपी को जमानत बांड पर रिहा कर दिया गया.

90 सदस्यीय राज्य विधानसभा के लिए पहले चरण का चुनाव 7 नवंबर को 20 निर्वाचन क्षेत्रों में हुआ था, जबकि शेष सीटों पर 17 नवंबर को दूसरे चरण में मतदान होगा.

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ चुनाव: बृजमोहन अग्रवाल पर हमला! एजाज ढेबर पर लगाया बड़ा आरोप; सीएम ने बताया प्रायोजित

 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT