रायपुर मर्डर मिस्ट्री: रायपुर के एक होटल में ‘दृश्यम फिल्म’ जैसा मर्डर! पुलिस ने सुलझा ली गुत्थी?

ChhattisgarhTak

ADVERTISEMENT

रायपुर के बेबीलोन होटल में कमरा नंबर 416 में आखिर क्या हुआ कि दो लोगों की जान चली गई. राजधानी से एक दिल दहला देने वाली खबर आई है.

social share
google news

Raipur Murder Mystery: रायपुर (CG Crime News) के बेबीलोन होटल में कमरा नंबर 416 में आखिर क्या हुआ कि दो लोगों की जान चली गई. राजधानी से एक दिल दहला देने वाली खबर आई है. पहले तो गर्लफ्रेंड की लाश एक होटल रुम से मिली फिर बॉयफ्रेंड की लाश मिलती है ट्रेन की पटरियों पर. इस वारदात को अंजाम देने के बाद पुलिस को गुमराह करने के लिए फिल्मों की तरह प्लान भी बनाया गया, लेकिन वो कहते हैं न कि कानून के हाथ लंबे होते हैं...

 

बता दें कि छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के बेबीलोन होटल में युवती की लाश मिली और उसके साथ आए दोस्त की लाश रेलवे ट्रैक पर मिली थी. पुलिस ने जांच शुरू की तो युवती का मोबाइल नागपुर में एक ट्रेन के अंदर मिला. हत्या करने वाले ने पुलिस को गुमराह करने के लिए बॉलीवुड फिल्म दृश्यम की तरह प्लान बनाया था.

ADVERTISEMENT

यह भी देखे...

ADVERTISEMENT

कमरा नंबर 416

बता दें राजधानी रायपुर के जेल रोड स्थित होटल बेबीलोन इन के कमरे के कमरा नंबर 416 में रविवार को वाणी गोयल का शव मिला था लेकिन वाणी का मोबाइल फोन ट्रेन से नागपुर से बरामद किया गया.

 

ADVERTISEMENT

आरोपी ने वारदात करने के बाद फिल्म दृश्यम की तर्ज पर उसी का तरीका अपनाते हुए मोबाइल को ट्रेन में रख दिया ताकि पुलिस को पूरी तरह से गुमराह किया जा सके और सही लोकेशन का पता ना चल सके.

होटल का कमरा दोनों के नाम से था बुक

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार वाणी के साथ विशाल गर्ग दोपहर में होटल जाते हुए दिखा था और होटल का कमरा दोनों के नाम से बुक किया गया था. वहीं इसके बाद विशाल होटल से रात लगभग 9 बजे अकेले ही बाहर निकालता है.

रेलवे ट्रैक पर युवक की लाश

सुबह लगभग चार बजे रेलवे जीआरपी को ट्रेक पर लाश मिलने की सूचना मिलती है, जिसके बाद मृतक की पहचान विशाल के रूप में हुई,रेलवे ट्रेक में कटा हुआ मिला है. उसे आखिरी बार वाणी के साथ देखा गया है. पुलिस को दोनों के फोन से कई अहम जानकारी हाथ लग सकती है.

 

कैब वाले ने कहां छोड़ा?  

पुलिस को परिजन के बयान से मिली जानकारी के अनुसार वाणी मारूति लाइफ स्टाइल में परिचितों के साथ रह रही थी. दोपहर में फोन कर बताया कि वह अपनी दोस्त के साथ जा रही है. कुछ घंटों के बाद जब वाणी का नंबर बंद आया तो परिजनों ने उसकी दोस्त को फोन किया. इसके बाद उसने बताया कि वह कैब से कहीं गई है. कैब वाले का नंबर निकाल कर उससे पता किया गया तो उसने होटल बेबीलोन इन के पास छोड़ने की बात बताई. इसके बाद परिवार वाले वहां तक पहुंचे. वाणी का कुछ पता नहीं चला. बाद में सरस्वती नगर थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई.

पुलिस ने ऐसे की तफ्तीश

एफआईआर के बाद पुलिस ने जांच शुरू की. रात 11 बजे पुलिस और क्राइम टीम जब होटल पहुंची तो उन्होंने होटल प्रबंधन ने रूकने वालों की लिस्ट नहीं दिखाई. इसके साथ होटल के जीएम ने वीडियो कॉल में सभी को देखा इसके बाद भी न तो सीसीटीवी कैमरा और न ही होटल में रूकने वालों की जानकारी दी.

युवती का मोबाइल फोन लगातार लोकेशन में रखा गया था. उसके ट्रेक किया गया. युवती का फोन ट्रेन में रख दिया गया था. इससे पुलिस गुमराह हो रही थी कि युवती नागपुर की ओर जा रही है. शक बढ़ने पर सुबह चार बजे जब एक बार फिर पुलिस फिर होटल पहुंची. उनके साथ परिजन भी गए.

हालांकि पुलिस के उच्च अधिकारियों से बात के बाद जब रूम में खोला गया तो वहां युवती का शव बेड के नीचे अर्धनग्न हालत में मिला, जिसके बाद परिजनों ने हंगामा किया. हंगामें के बाद पुलिस बल पहुंच गया. मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे. फारेंसिक टीम ने सबूत जुटाए और शव को पीएम के लिए रवाना किया.

रेलवे फाटक के पास मिला विशाल का शव

प्रेमी विशाल का शव रेलवे फाटक के पास मिला था, तलाशी में एक मोबाइल फोन, पर्स में कुछ पुराने बिल और करीब 1500 रुपये मिले हैं. युवक की लाश अर्धनग्न अवस्था में मिली है थी उसके शरीर के ऊपरी हिस्से में कपड़े नहीं थे सिर धड़ से अलग था.

कुकिंग का कोर्स करने रायपुर आई थी वाणी

वाणी कुकिंग का कोर्स करने के लिए रायपुर में मारूति लाइफ स्टाइल में स्वजनों के साथ रहती थी. वह समता कॉलोनी में कुकिंग का कोर्स कर रही थी. सीए की तैयारी भी कर रही थी.

उठ रहे कई सवाल

शहर के पॉश इलाके में 5 सितारा होटल के एक कमरे में अर्धनग्न युवती की लाश, जिसने कमरा बुक कराया था उसकी डेड बॉडी रेलवे ट्रैक पर और युवती का मोबाइल ट्रेन के टॉयलेट में. इस उलझी मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने में रायपुर पुलिस उलझती नजर आ रही है. विशाल ने उस रात कमरा क्यों बुक किया? उस रात होटल के कमरा नंबर 416 में क्या हुआ था? वाणी को उसने मारा या किसी और ने? कहानी में प्रेमी-प्रेमिका और वो तो नहीं? आखिर ऐसा क्या हुआ कि रातों-रात मौत का ये खेल रच दिया गया? पुलिस इन सारे सवालों के ताने-बाने में उलझकर मिस्ट्री को सुलझाने में लगी है.  

रायपुर से अजय सोनी की रिपोर्ट

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT