छत्तीसगढ़: कांग्रेस विधायक का आरोप- भाजपाइयों ने खाने में किया पेशाब; बीजेपी नेता ने मांगा सबूत

ChhattisgarhTak

ADVERTISEMENT

ChhattisgarhTak
social share
google news

Chhattisgarh Elections 2023- छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस और भाजपा के बीच सियासी जंग जारी है. इस बीच मनेंद्रगढ़ से कांग्रेस विधायक डॉ विनय जायसवाल ने भाजपा नेताओं पर भोजन के पैकेट पर पेशाब करने का आरोप लगाया है. वहीं बीजेपी ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कांग्रेस से सबूत दिखाने की मांग की है.

दरअसल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर 9 सितंबर को जिला कांग्रेस कमेटी ने फुटबॉल ग्राउंड डोमनहिल चिरमिरी में विधानसभा स्तरीय संकल्प शिविर का आयोजन किया गया था. संकल्प शिविर में उपमुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव, पीसीसी प्रमुख दीपक बैज, विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत समेत कई दिग्गज नेताओं को शामिल होना था, लेकिन खराब मौसम की वजह से वे यहां नहीं आ सके. इसके बाद स्थानीय नेताओं की मौजूदगी में ही संकल्प शिविर का आयोजन किया गया.

इस मामले में विवाद तब शुरु हुआ जब संकल्प शिविर में तीन हजार कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए भोजन का पैकेट बनाने वाले स्थान को लेकर भाजपा ने आपत्ति जताई. दरअसल, भोजन बनाने के लिए नगर निगम के सभागार को चुना गया. भाजपा का कहना था कि कांग्रेस नगर निगम का भी कांग्रेसीकरण कर रही है. इसे लेकर भाजपाइयों ने धरना-प्रदर्शन कर विरोध भी जताया था.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

कांग्रेस के संकल्प शिविर में आए तीन हजार कार्यकर्ता बिना खाए ही वापस लौट गए. जिसके बाद  कांग्रेस के विधायक विनय जायसवाल ने खाने में पेशाब करने का आरोप लगाते हुए भाजपा पर हमला बोला. वहीं भाजपा जिला अध्यक्ष अनिल केशरवानी ने कहा अगर प्रमाणित करेंगे तो वे अपने पद से त्याग पत्र दे देंगे.

कांग्रेस विधायक ने क्या कहा?

मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ विनय जायसवाल ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में मुद्दाविहीन हो गई भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस का संकल्प शिविर होता है, नगर निगम के सभा गृह में तीन हजार कार्यकर्ताओं का खाना बनता है तो उसमें आ कर विघ्न पैदा करते हैं. उन्होंने आरोप लगाया, “कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खाने को दूषित करते हैं. जो मेरी जानकारी में है… पेशाब करके दूषित करते हैं. जो खाना बना था उसको घृणित करते है.”

ADVERTISEMENT

 

ADVERTISEMENT

बीजेपी ने कहा- सबूत दिखाएं

भाजपा के जिलाध्यक्ष अनिल केशरवानी ने पलटवार करते हुए कहा कि नगर के सभागार का अगर दुरुपयोग हो रहा है तो विपक्ष होने के नाते उनकी जिम्मेदारी है और उन्होंने इसका विरोध किया. भाजपा नेता ने कहा, वही बात कहना चाहता हूं कि अपने अपराधों को छुपाने ले लिए पाप कर रहे हैं. अन्न देवता के अपमान की बात कर रहे हैं. भारत की संस्कृति पर अपना दल संचालित करने वाली भाजपा आज भारत को कहां पहुंचा रही है. कांग्रेस की संस्कृति है येन-केन प्रकार से सत्ता को हासिल करना और सत्ता का दुरुपयोग करना, उसी पर विधायक चल रहे हैं. उन्होंने कहा, “मेरी खुली चुनौती है कि अगर आप के पास इसका वीडियो है तो दिखाएं अन्यथा अपने पद से त्याग पत्र दे दें. मैं घोषणा कर रहा हूं कि मैं अपने पद से त्याग पत्र दे दूंगा.”

(मनेंद्रगढ़ से धीरेन्द्र विश्वकर्मा की रिपोर्ट)

इसे भी पढ़ें- जी 20 समिट डिनर विवाद: सीएम बघेल के दावे को गृह मंत्रालय ने किया खारिज, कही ये बात

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT