राहुल ने मोदी सरकार और कांग्रेस के ‘रिमोट कंट्रोल’ में बताया अंतर, जानें क्या कहा

ChhattisgarhTak

ADVERTISEMENT

ChhattisgarhTak
social share
google news

Rahul Gandhi on PM Modi- छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में सोमवार को ‘आवास न्याय सम्मेलन’ में पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मोदी सरकार और कांग्रेस सरकार के रिमोट कंट्रोल दबाने में अंतर होने का दावा किया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) रिमोट कंट्रोल का बटन दबाते हैं तो अडानी को मुंबई एयरपोर्ट, रेलवे का कॉन्ट्रैक्ट मिल जाता है. वहीं उन्होंने कांग्रेस सरकार के बटन दबाने पर किसान के खाते में पैसा पहुंचने और अंग्रेजी स्कूल खुलने की बात कही.

बिलासपुर जिले के तखतपुर विकासखंड के अंतर्गत परसदा (सकरी) गांव में राहुल ने कहा, “नरेंद्र मोदी जी रिमोट कंट्रोल का बटन दबाते हैं तो अडानी को मुंबई एयरपोर्ट, रेलवे का कॉन्ट्रैक्ट मिल जाता है. हम बटन दबाते हैं तो किसान को खाते में पैसा मिलता है, अंग्रेजी स्कूल खुलते हैं. भाजपा बटन दबाती है तो पब्लिक सेक्टर प्राइवेटाइज हो जाता है, आपका जल, जंगल, जमीन अडानी के हवाले हो जाता है.” उन्होंने कहा,   “रिमोट कंट्रोल दो प्रकार के होते हैं. वे छुप-छुपकर दबाते हैं और हम सबके सामने दबाते हैं.”


 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

राहुल गांधी ने कहा कि आज ग्रामीण आवास न्याय योजना के तहत छत्तीसगढ़ के करीब 50 हजार परिवारों के खातों में पहली किस्त भेजी गई है. छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार लगातार जनता के लिए काम रही है. वहीं मोदी सरकार आवास योजना में लोगों को पैसे नहीं दे रही है और अपनी जिम्मेदारी नहीं निभा रही है.

उन्होंने आगे कहा, “हमने छत्तीसगढ़ से कुछ वादे किए थे- किसानों का कर्ज माफ, बिजली बिल हाफ, धान के लिए 2,500 रुपये/क्विंटल. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ये वादे पूरे नहीं कर पाएगी. सच्चाई आपके सामने है, ये वादे हमने पूरे किए.”

ADVERTISEMENT

गांधी ने कहा, “कांग्रेस पार्टी जनता की सरकार चलाती है. कर्नाटक में हमने जनता से 5 ऐतिहासिक वादे किए और सारे पूरे किए. हम 15 लाख जैसे झूठे वादे नहीं करते. हमारी सरकारें अडानी की नहीं, बल्कि किसानों, मजदूरों, दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों की सरकार है.”

ADVERTISEMENT

 

‘आपका अडानी से क्या रिश्ता है…’

राहुल गांधी ने एक बार फिर अडानी का नाम लेकर मोदी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा, “मैंने संसद में नरेंद्र मोदी जी से पूछा- आपका अडानी से क्या रिश्ता है? जवाब में मेरी लोकसभा की सदस्यता रद्द कर दी गई.”

 

‘मोदी जी लोगों को डेटा नहीं दिखाते…’

राहुल गांधी ने जाति जनगणना को लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 2011 में जातिगत जनगणना कराई थी. उसमें हर जाति के लोगों का डेटा है, लेकिन मोदी जी वो डेटा लोगों को नहीं दिखाते. उन्होंने कहा, “पीएम मोदी हमेशा OBC की बात करते हैं लेकिन हिन्दुस्तान की सरकार को चलाने वाले 90 सेक्रेटरी में से मात्र तीन लोग पिछड़े वर्ग के हैं और वो तीन लोग हिन्दुस्तान के बजट का सिर्फ 5% बजट कंट्रोल करते हैं. क्या हिन्दुस्तान में मात्र 5% ओबीसी हैं? इसका जवाब सिर्फ जातिगत जनगणना से मिल सकता है.” उन्होंने कहा, “पीएम मोदी जातिगत जनगणना से इतना डरते क्यों हैं? डरिए मत- जाति जनगणना का डेटा सामने लाइए. अगर ओबीसी, दलित, आदिवासी और महिलाओं को भागीदारी देनी है तो जाति जनगणना करवानी ही पड़ेगी. अगर मोदी सरकार ये नहीं करेगी, तो कांग्रेस जातिगत जनगणना कराएगी और जनता को उसका हक दिलाएगी.”

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ में राहुल का मोदी सरकार पर वार, आवास योजना से लेकर जाति जनगणना तक कही ये बातें

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT