‘बीजेपी के लोग आएं तो उन्हें काट डालो’, इस आदिवासी नेता के बयान पर सियासत तेज; बीजेपी ने की ये मांग

परमानंद रजक

ADVERTISEMENT

ChhattisgarhTak
social share
google news

Tribal leader Sarju Tekam viral video- छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh News) के मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी जिले के मानपुर में समान नागरिक संहिता और मणिपुर मामले के विरोध में आयोजित की गई सभा के दौरान आदिवासी नेता सरजू टेकाम (Sarju Tekam) के विवादित बयान को लेकर सियासत तेज हो गई है.उनके बयान का एक भी वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वे कहते दिखाई दे रहे हैं कि बीजेपी के लोग यहां आए तो उनको काट डालो. इस दौरान टेकाम भाजपा के अलावा बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद, आरएसएस और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ भी टिप्पणी करते दिखे. इसे लेकर भाजपा और विश्व हिंदू परिषद ने कड़ा विरोध किया है.

मणिपुर (Manipur Violence)  में चल रही हिंसा के बीच महिलाओं को निर्वस्त्र करने के मामले सहित केंद्र सरकार द्वारा लाए जा रहे समान नागरिक संहिता के विरोध में मानपुर जिले के बस स्टैंड में एक सभा का आयोजन किया गया था, इस सभा में स्थानीय विधायक इंद्रशाह मंडावी (Indrashah Mandavi) भी शामिल हुए. इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए आदिवासी नेता सरजू टेकाम का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें सरजू टेकाम कांग्रेस विधायक इंदर शाह मंडावी की मौजूदगी में विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, आरएसएस, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पुलिस  के खिलाफ विवादित टिप्पणी कर रहे हैं. कांग्रेस विधायक इंद्रर शाह मंडावी की मौजूदगी में सूरज टेकाम ने कथित तौर पर कहा कि बीजेपी के लोग आएं तो उन्हें काट डालो. इस वीडियो के वायरल होने के बाद इसकी निंदा होनी भी शुरू हो गई है.

भाजपा ने की निंदा, एफआईआर की मांग

मानपुर के मामले में भारतीय जनता पार्टी ने अपराधिक प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई किए जाने को लेकर मानपुर थाने में ज्ञापन सौंपा है. वहीं राजनांदगांव के सांसद संतोष पांडे ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कानून व्यवस्था पुलिस के हाथ से निकल गई है, खुलेआम मंच से भाजपा नेताओं को मारने काटने और देवी देवताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की जा रही है. उन्होंने कहा कि विधायक इंदर शाह मंडावी भी सभा में मौजूद हैं। जहां बैठकर वे मुस्कुरा रहे हैं और सरजू टेकाम को प्रोत्साहित कर रहे हैं. सांसद ने कहा कि इस तरह की बयानबाजी की जितनी निंदा की जाए कम है. उन्होंने इस मामले में आपराधिक प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई किए जाने की मांग की है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

क्या बोले इंदर शाह मंडावी?

संसदीय सचिव और मोहला मानपुर विधानसभा के विधायक इंदर शाह मंडावी ने कहा कि मणिपुर मामले में समान नागरिक संहिता लागू किए जाने के विरोध में आयोजित इस सभा में पुलिस के सामने भाजपा नेताओं को क्षेत्र में आने पर मारकाट की धमकी दी जा रही है. वहीं आदिवासी क्षेत्र में विश्व हिंदू परिषद ,आरएसएस और बजरंग दल को प्रतिबंधित किए जाने की मांग भी की गई है. इस सभा में अपनी मौजूदगी को लेकर स्थानीय विधायक एवं संसदीय सचिव इंदर शाह मंडावी ने कहा कि यह सभा मणिपुर मामले और यूसीसी के विरोध में रखी गई थी. आदिवासी नेता ने जो कहा वह निंदनीय है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT