भूपेश कैबिनेट में बड़ा फेरबदल, मोहन मरकाम आज लेंगे मंत्री पद की शपथ

ChhattisgarhTak

ADVERTISEMENT

ChhattisgarhTak
social share
google news

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में बड़ा फेरबदल देखने को मिल रहा है. अब पूर्व पीसीसी प्रमुख मोहन मरकाम को मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा. मरकाम शुक्रवार 11.30 बजे पद और गोपनियता की शपथ लेंगे.इससे पहले शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. ऐसे में माना जा रहा है कि अब मोहन मरकाम को शिक्षा मंत्रालय का प्रभार दिया जा सकता है.

बता दें कि बुधवार रात कांग्रेस ने मोहन मरकाम की जगह युवा आदिवासी नेता और बस्तर से सांसद दीपक बैज को छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने का ऐलान किया. इस बड़े बदलाव को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है.जांजगीर चांपा के बिर्रा में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि टेकाम का इस्तीफा मिल गया है और इसे राज्यपाल के पास भेज दिया गया है.

मरकाम पिछले चार साल से प्रदेश कांग्रेस की कमान संभाल रहे थे. हालांकि पिछले कुछ महीनों से सुगबुगाहट तेज हो गई थी कि उन्हें पद से हटाया जा सकता है. कई बार प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा और मरकाम के बीच टकराव की भी खबरें सामने आईं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

वहीं स्कूल शिक्षा मंत्री टेकाम ने अपने इस्तीफे की जानकारी देते हुए मीडिया से कहा, ‘मंत्री पद पर किसी को रखना और नहीं रखना यह मुख्यमंत्री के विवेकाधिकार पर निर्भर करता है. मुख्यमंत्री पूरे राज्य के होते हैं. मुझसे कहा गया कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी का निर्देश है कि आपको इस्तीफा देना है. इस्तीफा दिया नहीं जाता है, उसे लिया जाता है. इस्तीफा देने की जो प्रक्रिया है उसका पालन किया गया है. यह संगठन और पार्टी की प्रक्रिया है.’

लगभग चार सालों तक पीसीसी प्रमुख की जिम्मेदारी संभालने वाले मरकाम ने साल 1990 में महेंद्र कर्मा की उपस्थिति में कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता ली थी. उन्हें साल 2008 में पहली बार कांग्रेस ने कोंडागांव विधानसभा सीट से अपना उम्मीदवार बनाया था. उन्होंने भाजपा की तत्कालीन मंत्री लता उसेंडी को कड़ी टक्कर दी थी. हालांकि मरकाम को महज 2771 मतों से हार का सामना करना पड़ा था. साल 2013 के चुनाव में भी पार्टी ने उन पर भरोसा जताया और उन्हें चुनावी मैदान में उतारा. इस चुनाव में भी उन्हें सफलता हासिल नहीं हुई. लेकिन साल 2018 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने पार्टी को निराश नहीं किया. उन्होंने भाजपा की- उम्मीदवार लता उसेंडी को भारी मतों के अंतर से मात दी.

ADVERTISEMENT

राज्य में विधानसभा चुनाव बेहद करीब है. लिहाजा चुनाव में जीत हासिल करने के लिए कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है और लगातार संगठन और सरकार में फेरबदल कर रही है. लगभग 15 दिन पहले ही स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को सूबे का उपमुख्यमंत्री बनाया गया.

ADVERTISEMENT

 

 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT